Friday, 10 February 2012

मेरी पुस्तक ऑनलाइन उपलब्ध है...फ्लिपकार्ट वेबसाइट पर!

मेरी पुस्तक ऑनलाइन उपलब्ध है... फ्लिपकार्ट वेबसाइट पर!

....अभी अभी मुझे हिन्दयुग्म के संपादक श्री। शैलेश भारतवासी की तरफ से यह शुभ-सन्देश प्राप्त हुआ है!
...धन्यवाद शैलेश जी!

...मै उन सभी का यहाँ फिर से धन्यवाद करना चाहूंगी जिन्होंने मेरे उपन्यास ' उनकी नजर है...हम पर !' की समीक्षा,प्रशंसा एवं आलोचना भी की है!...इस उपन्यास को मंगवाने के मेरे ई- मेल पर कई मैसेज भी आए और मैंने उन्हें श्री.शैलेश जी से संपर्क करने के लिए कहा था!

शैलेश जी लिखते है....

आदरणीया अरुणा जी,
यह बताते हुए हमें अत्यंत हर्ष हो रहा है कि आपकी पुस्तक, किताबों को ऑनलाइन बेचने वाली कंपनी प्लिपकार्ट की वेबसाइट पर विक्रय के लिए उपलब्ध करा दी गयी हैं। यह वेबसाइट किताबों को क्रेता तक 3-4 दिनों में पहुँचा भी देती है।
आपकी पुस्तक का flipkart लिंक-
उनकी नजर है हम पर-
http://www.flipkart.com/books/8191038528?_l=b3JUm9Vsc9d2jQzOHTXUhw--&_r=q0z9FKSAm15_zCGhZRG0TA--&ref=a39c3bbc-1256-437a-90c2-c366175e7b24

प्लिपकार्ट पर आपके नाम का पेज-
http://www.flipkart.com/author/aruna-kapoor
हिंद-युग्म की सभी किताबों का संक्षिप्त विवरण- http://www.flipkart.com/search-books/hind+yugm
आप इन लिंकों को अपने प्रसंशकों को भेजकर उन्हें यह सूचित कर सकते हैं कि यदि वे इस पुस्तक को भारत में कहीं भी मँगाना चाहें तो मँगा सकते हैं। अब उन्हें इसके लिए किसी पुस्तक बेचने वाली दुकान तक जाने की जरूरत नहीं है।
आप अपने फ्लिपकार्ट पेज को फेसबुक पर भी शेयर कर सकती हैं। इन लिंकों को अपने ब्लॉग पर लगा सकती हैं।
धन्यवाद।
निवेदक-शैलेश भारतवासी

9 comments:

shikha varshney said...

शुभ समाचार ..आभार

सतीश सक्सेना said...

बधाई आपको !

Atul Shrivastava said...

बधाई हो आपको।

Minakshi Pant said...

बहुत अच्छी जानकारी शुक्रिया और आपको बहुत २ बधाई |

sangita said...

बधाई आपको,मेरे ब्लॉग पर आपका सदा स्वागत है|

veerubhai said...

बधाई ! बधाई ! बधाई !ब्लॉग जगत का भी मान बढ़ा .

veerubhai said...

आइन्दा सब कुछ आन लाइन ही होगा .बधाई .शुक्रिया मेरे ब्लॉग पर टिपियाने टिपण्णी लिखने के लिए जो अक्सर लेखन को आंच मुहैया करवातीं हैं .

veerubhai said...

ब्लॉग पर आपकी प्रेरक उपस्थिति के लिए शुक्रिया .आपकी एक नै पोस्ट प्रतीक्षित है .

मनोज कुमार said...

शुभकामनाएं।